सहारनपुर होटल शेरे पंजाब में हो सकती है दिन में ही गैंगवार- पार्टनर का बेटा अशोक सेठी को गुण्डो से दिलवा रहा है जान से मारने की धमकी

सहारनपुर होटल शेरे पंजाब में हो सकती है दिन में ही गैंगवार- पार्टनर का बेटा अशोक सेठी को गुण्डो से दिलवा रहा है जान से मारने की धमकीसहारनपुर होटल शेरे पंजाब में हो सकती है दिन में ही गैंगवार- पार्टनर का बेटा अशोक सेठी को गुण्डो से दिलवा रहा है जान से मारने की धमकी

सहारनपुर : रेलवे स्टेशन के आस पास बने होटल आज कल खुली गुन्डा गर्दी के अड्डे बने हुए हैं। इन होटलों मे आये दिन गोली मार कर लोगो को मौत के घाट उतारना आम बात हो गई है। इसके साथ ही यह होटल विभिन्न प्रकार के अन्य अपराधों के मुख्य केन्द्र बने हुए हैं। होटल शेरे पंजाब की हालत यह हैं कि यहां अपराधियों की बजाय होटल के संचालक ही अपने दुसरे पार्टनर को नामचीन गुन्डों से गोली मरवानी की धमकियां दिलवाने में लगें हैं।महानगर के होटल शेरे पंजाब मौजूदा समय में गुन्डा गर्दी का मुख्य केन्द्र बनता जा रहा हैं। इस होटल की स्थापना 1947 के बाद पाकिस्तान से आये श्याम लाल सेठी के पिता श्री ने शुरू किया था। उनके देहान्त के बाद होटल का पूरा कारोबार उनके पुत्रों अशोक सेठी एंव भोला सेठी ने देखना शुरू कर दिया। उक्त दोनों भाई होटल के कारोबार को सही तरीके से चला रहे थे कि इसी बीच 27 अक्टूबर 2015 को रात्रि में लगभग 11.30 बजे में एक ग्राहक से भोला की मामूली बात को लेकर कहा सुनी हो गई थी, यह बात निपट भी गई थी। परन्तु इसी बीच उक्त ग्राहक लगभग 20 मिनट के बाद वापस आया ओर होटल पर बैठे भोला को गोली मार कर मौत के घाट उतार दिया। इसका विरोध होटल के नौकर हिटलर उर्फ हुसैन ने किया तो उक्त बदमाश ने उसे भी गोली मार मौत की नींद सुला दिया। इसके बाद इस होटल को लेकर अशोक सेठी एंव मृत्तक भोला सेठी के परिजनों में होटल के कारोबार को लेकर एक आपसी सहमति बनी कि 15 दिन अशोक सेठी तथा 15 दिन होटल का कारोबार भोला के पुत्र गोकुल देखेगा। यह कार्य बराबर कुछ दिन चलता रहा, परन्तु इसी बीच इन दोनो मे भी तनाव एंव तकरार पैदा हो गया। नतीजतन भोला के बेटे गोकुल ने अपने कुछ गुण्डा किस्म के लोगो को होटल पर बैठा कर अशोक सेठी तथा होटल के अन्य नौकरों को न केवल आतंकित करना शुरू कर दिया, बल्कि तरह-तरह से धमकिया भी देनी शुरू कर दी। इसी बीच 30 सितम्बर 2016 को रात्रि में लगभग 12 बजे इसी होटल में अशोक सेठी के भाई प्रेम सेठी के पुत्र सुमित्र सेठी को भी गोली मार कर मौत के घाट उतारने का प्रयास किया गया। सुमित को इस हमले मे दिल के पास गोली लगी, जो मौजूदा समय में दिल्ली के एक अस्पताल मे आज भी ईलाज के दौरान जिन्दगी और मौत से जुझ रहा है। होटल शेरे पंजाब का खूनी खेल यहीं पर समाप्त नही हुआ बल्कि यह अभी भी जारी है। सूत्र बताते है कि मृतक भोला उर्फ शिव सेठी का बेटा गोकुल ने अब होटल पर अपने 15 दिन के कार्यकाल में महानगर के नामचीन बदमाशों को बैठाना शुरू कर दिया है। यह बदमाश न केवल होटल शेरे पंजाब के समानेे मस्जिद के हिस्से में बनी एक दुकान में खुलेआम ग्राहकों को शराब परेासने का काम करते है बल्कि होटल के पार्टनर अशोक सेठी व उसके नौकरों को जान से मारने की धमकी के साथ ही होटल छोडकर भागने की धमकियां भी दे रहे है। अशोक सेठी ने इस बाबत गोकुल सेठी पुत्र भोला, बबलू पुत्र ना मालुम निवासी मौहल्ला किशनपुरा नाला पटरी एवं दीपक खन्ना पुत्र ना मालुम निवासी मिशन कम्पाउण्ड को नामजद करते हुए थानासदर बाजार में रिपोर्ट भी दर्ज करायी है। पुलिस ने समय रहते अगर होटल शेरे पंजाब के साथ-साथ रेलवे स्टेशन के आस पास के होटलों पर हो रही गुण्डागर्दी पर अगर अकुंश नही लगाया तो आने वाले समय में यहां पर दिन में ही गैंगवार हो सकती है।

  Similar Posts

Share it
Top