सहारनपुर: अधिकारी कार्यों को पूरा करने के लिए समयबद्ध कार्यक्रम बनायें: एमपी अग्रवाल

सहारनपुर: अधिकारी कार्यों को पूरा करने के लिए समयबद्ध कार्यक्रम बनायें: एमपी अग्रवालअधिकारी कार्यों को पूरा करने के लिए समयबद्ध कार्यक्रम बनायें: एमपी अग्रवाल

सहारनपुर : मण्डलायुक्त एमपी अग्रवाल ने कहा कि अधिकारी अपने कार्यों को पूर्ण कराने के लिए दूसरे विभागों से समन्वय स्थापित करें। उन्होंने कहा कि कार्यों को समय से पूरा कराने के लिए एक समयबद्ध कार्यक्रम निर्धारित करें। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे कार्यों को पूरा करने में पारदर्शिता बरतें तथा बिना औचित्य के पत्रावलियों को लम्बित ना रखें। उन्होंने कहा कि जनपद सहारनपुर गैस पाईप लाईन बिछाने के कार्य को समय से पूरा करें, जिससे स्थानीय जनता को गैस आसानी से उलपब्ध हो सकें। मण्डलायुक्त ने जिला प्रशासन के विभिन्न विभाग से समन्वय स्थापित करने के लिए अपर जिला मजिस्ट्रेट ;वित्त एवं राजस्वद्ध हरिश चन्द्र को नोडल अधिकारी नामित किया।श्री अग्रवाल आज यहां सर्किट हाऊस सभागार में भारत पेट्रोलियम कारपोरेशनए गैस ऑथरिटी ऑफ इंडिया सहित विकास योजना से जुड़े अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक को सम्बोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि भारत पेट्रोलियम कारपोरेशन व गैस ऑथरिटी ऑफ इंडिया के संयुक्त प्रयासों से बने सिटी गैस वितरक परियोजना के अंतर्गत जनपद में गैस पाईप लाईन का कार्य को आगामी चार सालों के भीतर पूरा किया जाना है। उन्होंने कहा कि इस परियोजना का कार्य बिना प्रदेश सरकार के विभिन्न विभागों के सहयोग से पूरा नहीं हो सकता। इसके लिए अधिकारी इस परियोजना को पूरा करने में भारत सरकार से आये अधिकारियों का सहयोग करें। उन्होंने गैस पाईप लाईन परियोजना के अधिकारियों से कहा कि वे अपनी समस्याओं के निस्तारण के लिए अधिकारियों से बार.बार मिलें। किसी अधिकारी के कार्य से वे संतुष्ट नहीं है तो उनसे आकर मिल सकते है। उन्होंने कहा कि आपकों इस परियोजना को पूरा करने के लिए लोक निर्माण विभाग, नगर निगम, सिंचाई, जिला पंचायत, वन विभाग तथा सहारनपुर विकास प्राधिकरण सहित राजस्व विभाग से समन्वय स्थापित करना पड़ेगा। उन्होंने अधिकारियों को कहा कि वे प्राथमिकता के आधार पर पाईप लाईन से जुड़े मुद्दों का निस्तारण करें। मण्डलायुक्त ने गैस पाईप लाईन से जुड़े अधिकारियों को नसीहत देते हुए कहा कि पिछले एक वर्ष से आपके द्वारा इस परियोजना पर काम किया जा रहा है। लेकिन यह पहला मौका है जब उनके स्तर पर बैठक का आयोजन किया गया है। उन्होंने कहा कि यह बैठक एक साल पूर्व सम्पन्न करानी चाहिए थी, जिससे इस परियोजना के काम को गति मिलती। उन्होंने कहा कि इस परियोजना से जुड़े अधिकारी कार्यों में रूचि लेकर जिन विभागों से अनापत्ति प्रमाण लिये जाने है वो प्राप्त करें। उन्होंने कहा कि अगर अनापत्ति प्रमाण पत्र प्राप्त करने में कोई दिक्कत आती है तो नोडल अधिकारी से सम्पर्क कर सकते है।सिटी गैस वितरण परियोजना के डीजीएम दीपक मलिक ने गैस पाईप लाईन के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने विभागीय सहयोग की अपेक्षा करते हुए बताया कि जनपद में 268 इंच किमी. पाईप लाईन बिछायी जायेगी। इस परियोजना से जनपद में सीएनजी गैस के स्टेशन के साथ ही घरेलू गैस के कनेक्शन भी उपभोक्ताओं को दिये जायेंगे।इस अवसर पर अपर आयुक्त उदयीराम, नगर आयुक्त ओपी वर्मा अपर जिला मजिस्ट्रेट वित्त एवं राजस्व हरिश चन्द्र, नगर मजिस्ट्रेट हरिशंकर, प्रभारी सीडीओ विक्रम सिंह, पुलिस अधीक्षक नगर संजय सिंह, अग्निशमन अधिकारी, लोक निर्माण व सिंचाई विभाग के अभियंता तथा वन विभाग के अधिकारी मौजूद थे। भारत पेट्रोलियम कारपोरेशन के उमेश गौतम, डीएस सांवल तथा दीपक मलिक सहित कई अधिकारी मौजूद थे।

  Similar Posts

Share it
Top