सहारनपुर: दलबल के साथ काजी हुए बसपाई प्रदेश में चल रही है ईवीएम की सरकार: चित्तौड साम्प्रदायिक शक्तियों को रोकने में बसपा ही सक्षम: काजी

सहारनपुर: दलबल के साथ काजी हुए बसपाई प्रदेश में चल रही है ईवीएम की सरकार: चित्तौड साम्प्रदायिक शक्तियों को रोकने में बसपा ही सक्षम: काजीदलबल के साथ काजी हुए बसपाई प्रदेश में चल रही है ईवीएम की सरकार: चित्तौड साम्प्रदायिक शक्तियों को रोकने में बसपा ही सक्षम: काजी

सहारनपुर : सहारनपुर लोकसभा क्षे़़त्र से आठ बार सांसद रहे पूर्व कंेद्रीय मंत्री काजी रशीद मसूद अपने समर्थको के साथ आज बसपा में विधिवत रूप से शामिल हो गये हैं। उनके बसपा शामिल होने का ऐलान बसपा के एमएलसी एवं जोन कोर्डिनेटर सुनील चित्तौड ने एक सम्मेलन के दौरा किया। वरिष्ठ बसपा नेता एवं एमएलसी सुनील चित्तौड ने इस मौके पर कहा कि उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की नही बल्कि ईवीएम की सरकार चल रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी की सरकार के अभी तक के कार्यकाल में सिर्फ कोरी घोषणाए ही की जा रही है। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी के पक्ष में बना हुआ था परंतु केंद्र सरकार के इशारे पर ईवीएम में गडबडी कर बसपा को हराने का षडयंत्र किया गया है। उन्होेंने कहा कि काजी रशीद मसूद के बसपा में आने से पश्चिमी उत्तर प्रदेश में एक नई ताकत मिलेगी, साथ ही बसपा की धर्म निरपेक्ष छवि भी उजागर होगी। पूर्व केंद्रीय मं़त्री काजी रशीद मसूद ने इस मौके पर कहा कि केवल बसपा ही साम्प्रदायिक शक्तियों को हराने में सक्षम है। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी अब परिवारवादी हो गयी है। उन्होंने कहा कि सपा सरकार में अल्पसंख्यको एवं दलितों का खुला शोषण हुआ है। उन्होंने कहा कि बसपा में वह बगैर किसी शर्त के शामिल हुए है ताकि साम्प्रदायिक शक्तियों को आगे बढने से रोका जा सके। इस मौके पर अध्यक्षता बसपा जिलाध्यक्ष जनेश्वर प्रसाद ने की। सम्मेलन के दौरान पूर्व विधायक जगपाल सिंह, पूर्व विधायक महीपाल माजरा, शादान मसूद, शायान मसूद, एमएलसी महमूद अली, शमसुद्दीन, उस्मान कुरैशी, नरेश गौतम व पूर्व विधायक रविंद्र मोल्हू मुख्य रूप से मौजूद रहे।



  Similar Posts

Share it
Top