सहारनपुर: शब्बीरपुर कांड ने की गुलामी याद ताजा: जोगंेंद्रलोजपा ने मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा

सहारनपुर: शब्बीरपुर कांड ने की गुलामी याद ताजा: जोगंेंद्रलोजपा ने मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा

सहारनपुर : लोकजन शक्ति पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष जोगेंद्र सिंह ने दलित उत्पीडन की घटनाओं पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि इस प्रकार की घटनाओं के बढने से सामाजिक विकास अवरूद्ध होने की संभावना बढ गयी है। समय रहते अगर शासन-प्रशासन ने इन्हें नही रोका तो यह गंभीर रूप ले सकता है। लोकजन शक्ति पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष जोगेंद्र ंिसंह यहां लोक निर्माण विभाग के अतिथी विश्राम ग्रह पर पार्टी कार्यकर्ताआंे को मुख्य अतिथी के रूप में सम्बोधित कर रहे थे। इस दौरान प्रदेशाध्यक्ष सिंह ने लोजपा संगठन बारीकी से समीक्षा भी की। प्रदेशाध्यक्ष जोगंेद्र सिंह ने कहा कि गांव शब्बीरपुर में एक जाति विशेष के असामाजिक तत्वों ने दलित, महिलाओं एवं बच्चों के साथ जो दर्दनाक व शर्मनाक घटना को जिस प्रकार से अंजाम दिया है ऐसी हृदय विदारक घटना ने देश की गुलामी की याद को ताजा कर दिया है। उन्होंने कहा कि इस घटना से सामाजिक एकता व अखंडता को प्रभावित किया है। लोजपा प्रदेशाध्यक्ष सिंह ने कहा कि इस कांड में प्रभावित हुए परिवारों को पांच लाख रूपये का मुआवजा व बेघर हुये लोगों के पुनर्वास कराया जाये। उन्होने कहा कि निदोर्ष दलितो को पुलिस तंग एवं परेशान न करे तथा दलितो के ऊपर लगाये गये झूठे मुकदमों पर एफआर लगाई जाये। उन्होने कहा कि एक विशेष जाति के आसामाजिक तत्वो के ऊपर उन सभी पीडित लोगों के मुकदमें कायम कराये जाये जिन्होंने दलितो के ऊपर जुल्म एवं ज्यादती की उनके खिलाफ मुकदमें दर्ज कराये जायें। उन्होंने कहा कि दोषी पुलिस कर्मियो एवं अधिकारियों जिनके सामने एक जाति के असामाजिक तत्वों ने अपने हाथों में नंगी तलवारों से बेगुनाह दलित महिलाओं एवं बच्चों को बेरहमी से मारा पीटा और पुलिस मूकदर्शक बनी रही। उन्हांेने कहा कि पांच मई को ग्राम शिमलाना में एक विशेष जाति के दबंग असामाजिक तत्वों ने अपने समाज की बैठक बिना प्रशासन की इजाजत से की और उसी दिन एक राय होकर दलितों के घरो में आग, लूटपाट कर दलितों को बेरहमी से पीटा गया। उन्हांेने कहा कि अगर समय रहते पुलिस प्रशासन अगर तभी शक्ति कर देता तो आगे की घटनाओं को रोका जा सकता था। लेकिन प्रशासन ने ऐसा नही किया। उन्होंने शामिल अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई, गांव शब्बीरपुर में संत रविदास के मंदिर में घुस कर जिन असामाजिक तत्वों ने रविदास की मूर्तियों को ख्ंाडित किया उनके खिलाफ देशद्रोही का मुकदमा कायम कराये जाने और भविष्य में दलित समाज के लोगों के ऊपर ज्यादती न हो ेउसके लिये कठोर कदम उठाये जाने की मांग की। बैठक के उपरांत लोजपा प्रदेशाध्यक्ष शब्बीरपुर कांड को लेकर जिलाधिकारी आवास पर पहुंचे परंतु वहां पर उनकी मुलाकात जिलाधिकारी से नही हो सकी। इसके बाद प्रदेशाध्यक्ष पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं क साथ कलेक्ट्रट स्थित जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे जहां उन्होंने नौ सूत्रीय मांग पत्र जिलाधिकारी सौंपा। ज्ञापन देने वालों में नवीन कुमार आजाद , सुलेख चंद, प्रमोद नौटियाल, मास्टर मेमपाल, मोनू कुमार, अजय कुमार, मास्टर ज्योतिश्वरनाथ अश्वनी कुमार, राहुल भारती, अरूण कुमार, अरविंद भारती, जोनी कुमार, अंकुश कुमार, मांगे राम, रोहित भारती, साहिल सिंह, जोनी मवींकला, रजनीश बब्बल, सुमित सहगल, अजीत सिंह, जयदीप सिंह, राजेश कुमार, एडवोकेट अजय कुमार, गौरव कुमार, हरिओम पासवान, स्वराज पंवार, ललित कुमार, संजय कुमार, गजराज सिंह सहित दर्जनों लोग मौजद रहे।

  Similar Posts

Share it
Top