सहारनपुर: माया ने जाना शब्बीरपुर के पीडितों का हाल, इंसाफ दिलाने का दिया भरोसा

सहारनपुर: माया ने जाना शब्बीरपुर के पीडितों का हाल, इंसाफ दिलाने का दिया भरोसा

सहारनपुर : बहुजन समाज पाटी राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री सुश्री मायावती ने पिछले दिनों जातीय हिंसा का शिकार हुये शब्बीरपुर गांव का दौरा कर वहां हिंसा के पीडित परिवारों का हाल जाना। पीडितों को न्याय न मिलने की स्थिति बसपा द्वारा आंदोलन छेडने की सीधी चेतावनी प्रदेश सरकार को दी।बसपा सुप्रीमों के आगमन को मददेनजर रखते हुये जिला पुलिस एवं प्रशासन ने शब्बीरपुर गांव के अलावा आसपास के क्षेत्रों में पुलिस एवं आरआरएफ के जवानों के साथ ही भारीं पुलिस बल तैनात कर छावनी में तब्दील कर दिया गया। बसपा सुप्रीमों ने जातीय हिंसा का शिकार हुये दलित परिवारों व कश्यप समाज के पीडित परिवारों के घरों पर जाकर उनकी दास्तां सुनी। इस मौके पर बसपा सुप्रीमों एवं प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री सुश्री मायावती ने आरोप लगाते हुये कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार आरएसएस के एजेंडे पर काम कर बारी-बारी से दलित, पिछडों एवं अल्पसंख्यको को निशाना बनाकर उनका उत्पीडन कर रही है। बसपा सुप्रीमों ने कहा कि पूरे प्रदेश में भगवा गुंडागर्दी बढी है। उन्होंने शब्बीरपुर के लोगों से अपील की कि वह आपस में भाई चारा कायम रखे तथा सभी जाति एवं धर्मो के लोग किसी के बहकावें में न आकर आपसी मनमुटाव को दूर कर शांति एवं प्रेम से रहें। इस मौके पर बसपा के राज्यसभा सदस्य मुनकाद अली, राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा, वरिष्ठ नेता आर एस सिंह कुशवाह एवं शमसुददीन भी बसपा सुप्रीमो के साथ शब्बीरपुर में मौजूद रहे। इसके अलावा पार्टी के सहारनपुर मंडल के जोन इंचार्ज नरेश गौतम, पूर्व विधायक जगपाल सिंह, पार्टी वरिष्ठ नेता शादान मसूद, पार्टी जिलाध्यक्ष जनेश्वर प्रसाद, जिला पंचायत सदस्य रकम सिंह सैनी, लोधी कुमार, कल्याण सिंह, नगर अध्यक्ष प्रताप सिंह के अलावा बसपा के सभी विधान सभा क्षेत्रों के प्रभारी एवं अध्यक्ष मौजूद रहे।
























  Similar Posts

Share it
Top