सहारनपुर अम्बेडकर जयंती के दौरान सड़क दूधली में जमकर हुआ बवाल, शोभा यात्रा पर किया पथराव, फायरिंग भी हुई

सहारनपुर अम्बेडकर जयंती के दौरान सड़क दूधली में जमकर हुआ बवाल, शोभा यात्रा पर किया पथराव, फायरिंग भी हुई

सहारनपुर : आला अधिकारियों की गलती के चलते गुरुवार को सड़क दूधली में अंबेडकर शोभायात्रा निकालते हुए हिंदू मुस्लिम विवाद हो गया। जबरदस्त पथराव व आगजनी हुई। जिसमें सांसद राघव लखनपाल, उनके भाई राहुल लखनपाल, भाजपा जिलाध्यक्ष समेत दर्जनों लोग घायल हुए हैं। घटना के बाद कमिश्नर व डीआईजी ने फोर्स के साथ मौके पर पहुंचकर स्थिति संभाली। उधर, भाजपाओं ने घटना के लिए एसएसपी को जिम्मेदार ठहराया और शाम पांच बजे समाचार लिखे जाने तक एसएसपी के निलंबन की मांग को लेकर सांसद की अगुवाई में एसएसपी आवास का घिराव जारी था, देहरादून हाइवे को भी जाम कर दिया गया था। उधर, बवाल के बाद सड़क दूधली गांव को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है। स्थिति नियंत्रण में बताई जाती है। घटनाक्रमः-हर साल सड़क दूधली पर अंबेडकर जयंती के उपलक्ष्य में शोभायात्रा निकालने को लेकर विवाद होता है, बावजूद इसके एसएसपी लव कुमार ने इस मामले को हल्के से लिया और शोभायात्रा में सिर्फ जनकपुरी थानाध्यक्ष शोएब मियां और कुछ पुलिस कर्मी ही मौजूद थे, शोभाया दोपहर 11.30 बजे ट्रांसपोर्ट नगर से प्रारंभ हुई थी।
साढ़े बारह बजे के करीब गांव में पहुंच गई थी, स्थिति उस समय बिगड़ी जबकि शोभायात्रा गांव के भीतर से निकली। खत्म होने वाली थी कि अचानक मुस्लिम पक्ष के लोगों ने पथराव शुरू कर दिया।
जबरदस्त पथराव हुआ और शोभायात्रं में शामिल लोग भाग खड़े हुए। इस दौरान कुछ घरों से हवाई फायर भी किये गये। शोभायात्रा की अगवानी भाजपा सांसद राघव लखनपाल शर्मा, उनके छोटे भाई राहुल लखनपाल, देवबंद विधायक कुंवर बृजेश सिंह, पूर्व विधायक राजीव गुंबर, जिलाध्यक्ष बिजेंद्र कश्यप, अमित गगनेजा, हेमंत अरोड़ा आदि कर रहे थे। पथराव की किसी को उम्मीद नहीं थे, ऐसे में ही शोभायात्रा में शामिल कई लोग घायल हो गये। आगजनी भी की गई। शोभायात्रा में शामिल बैंड़ की गाड़ी को बुरी तरह से तोड़ दिया गया। बैंंड़वाले भी पथराव के बाद भाग खड़े हुए।
शोभायात्रा पर पथराव किये जाने से गुस्साए श्री गुरू रविदास महासभा से जुडे दलितों व भाजपा समेत विश्व हिन्दू परिषद, हिन्दू युवा वाहिनी एवं बजरंगदल समेत कई अन्य संगठनों के युवाओं ने सांसद राघव लखन पाल शर्मा के नेतृत्व में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आवास पर जोरदार प्रदर्शन करते हुए घण्टो तक सहारनपुर देहरादून हाईवे पर जाम लगाया। इस दौरान कई वाहनों को आग लगाये जाने की घटनाएं भी हुई। डा. भीमराव अम्बेडकर की शोभायात्रा में हुए बवाल की सूचना मिलते ही कमिश्नर एमपी अग्रवाल, डीआईजी जितेन्द्र कुमार शाही, डीएम शफक्कत कमाल, एसएसपी लव कुमार, एसपी सिटी संजय सिंह, सीओ सुनिता कई थानों का फोर्स लेकर मौके पर पहुंचे। पथराव में जो लोग घायल हुए हैं, उनमें सांसद राघव लखनपाल शर्मा, राघव के भाई राहुल लखनपाल शर्मा, राघव के पीआरओ सुधीर पंवार, राकेश त्यागी, विनोद कौशिक, सुधीर पंवार, अमित त्यागी, ब्रिजेश कुमार, भाजपा जिलाध्यक्ष बिजेंद्र कश्यप, गौरव अनेजा, नरेंद्र शर्मा , विनोद कोहली आदि शामिल रहे। इन सभी ने जिला अस्पताल में मेडिकल भी कराया हैं।
सांसद के हाथ व पैर में चोट लगी हैं, बाकि भी इसी तरह से पत्थरों से घायल हुए हैं। उधर, मुश्लिम पक्ष के लोग भी पथराव में घायल हुए हैं, पर उनमें से कोई भी मेडिकल के लिए जिला अस्पताल नहीं पहुंचा था।--------------------------------------------------
दंगईयों ने कप्तान व डीएम की गाड़ी पर भी किया पथराव पथराव के दौरान आक्रोशित लोगों ने कमिश्नर एमपी अग्रवाल व डीएम शफक्कत कमाल की भी गा़िड़यों को तोड़ डाला। ऐसे में सहज ही अनुमान लगाया जा सकता है कि पथराव की संपूर्ण रुपरेखा पहले से तय कर ली गई थी, पर अफसर इसे भाप नहीं पाये थे। यहां काबिले गौर यह भी है कि सड़क दूधली में हर साल शोभायात्रा को लेकर बवाल होता हैं, पर अफसरों ने इस बार इसे हल्के से लिया।










































































  Similar Posts

Share it
Top