सहारनपुर रसूल के बताये रास्ते पर चलने का आहवान

2016-12-14 00:00:58.0

सहारनपुर रसूल के बताये रास्ते पर चलने का आहवान

सहारनपुर : मदरसा मजाहिर उलूम के उस्ताद मौलाना निसार अहमद एवं मस्जिद आलीआहनग्रान के इमाम मौलवी फ रीद ने कहा कि आज के इस युग में अखलाक-ए-रसूल को अपनाकर ही हर मुश्किल को आसान किया जा सकता है। इसलिए आज जरूरत इस बात की है कि रसूल के बताये रास्ते पर चलकर जिन्दगी गुजर की जाये।यहां मौहल्ला आली स्ट्रीट स्थित गुलशन पब्लिक स्कूल में अखलाक-ए रसूल विषय पर आयोजित एक विचार गोष्ठी को सम्बोधित करते हुए उक्त मौलानाओं ने कहा कि यदि अखलाक-ए-रसूल पर चलकर मुसलमान अपनी जिन्दगी बसर करे तो वह हर व्यक्ति का आदर्श बन सकता है। क्योंकि पैगम्बर हजरत मौ. (सल्ल0) दुनिया के ऐसे आदर्श हुए हैं, जिनकी सुन्नत आज भी दुनिया में प्रासांगिक है। उन्होंने छात्र-छात्राओं एवं अभिभावकों का आहवान किया कि सभी लोग रसूल के जीवन से प्रेरणा लेकर अपनी जिन्दगी को एक आदर्श के रूप में जिये। तभी उनका सर्वांगीण विकास संभव हो सकेगा। स्कूल की प्रधानाचार्या शबनूर ने कहा कि वर्तमान समय में जिस तरीके से चारों तरफ भ्रष्टाचार का बोलबाला है,उसे समाप्त करने के लिए रसूल के आदर्शों को अपनाना अत्यंत आवश्यक है, क्योंकि उनके आदर्शों को अपनाकर ही हर समस्या का समाधान हो सकता है। स्कूल प्रबन्धक अमीर खान एडवोकेट, सलाहकार शमा अंजुम, वरिष्ठ नेता शौकत अंसारी एवं युवा वक्ता असजद फरीद ने कहा कि आज आवश्यकता इस बात की है कि रसूल की शिक्षाओं को जन-जन तक पहुंचाया जाये तथा बच्चों में शुरू से ही अभिभावक रसूल के आदर्शों को अपनाने के लिए प्रेरित करें। विचार गोष्ठी में मिस्बाह, साहिबा, समरीन, मुस्कान, सादिया, बुसरा, तैयबा, ताजीन, आयशा, अलफिशा, जैनब, अलीशा, अमरीन, फलक नाज़, ताजीम, जैनब आदि बच्चों ने भी अपने विचार व्यक्त कर रसूल के रास्ते पर चलने का आहवान किया।इस अवसर पर स्कूल प्रबन्ध समिति द्वारा गरीबों की सेवा करने वाले डा.मौ.इलियास व भारतीय विकलांग कल्याण समिति के अध्यक्ष जहांगीर खान एवं आस्था विकलांग स्कूल की प्राचार्या राशदा खान को भी सम्मानित किया गया। इस अवसर पर मौ.शुऐब, मुर्तजा भारती, मौ.शाहनवाज, मौ.अनस, शमसुरर्हमान, अब्दुल्ला के अलावा रूबी, जोया, वहीदा, रिज़ा, शैला, शिरिन, साजिया, जैनब, नाहिद आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे। संचालन शबनूर ने किया।

  Similar Posts

Share it
Top