सहारनपुर भौतिकवाद एवं अध्यात्मवाद से ही सर्वागीण विकास: आत्मानुभवी महाराज

सहारनपुर भौतिकवाद एवं अध्यात्मवाद से ही सर्वागीण विकास: आत्मानुभवी महाराज

सहारनपुर : शकंलापुरी रोड स्थित मोहित नगर में चल रही भागवत ज्ञान यज्ञ में भात्मानुभवी ने कहा कि भैतिकवाद की लोभ वृत्यि भारतीय सस्कृंति एव धार्मिकता से मनुष्य को दुर कर भृष्टाचार जैसी वृत्तियो को पैदा कर रही हे। अगर भोैतिकवाद में अध्यात्मवाद मिल जाए तभी मानव का सर्वागीण विकास होता है। अध्यात्मवाद से ही मनुष्य अधर्म का रास्ता छोडकर धर्म का रास्ता अपना लेता ह भात्मानुभवी महाराज आज भागवत ज्ञान यज्ञ के समापन अवसर पर सार कथा सुना रहे थे कहा की आज मनुष्य की अशिन्ता का कारण अज्ञान है जब तक मनुष्य आत्मज्ञानी महापुरूष की शरण में नही आयेगा तब तक जीवन मेन समरसता आयेगी न मुक्ति मिलेगी ज्ञान की आख खुलने पर ही ईश्वर की सर्व व्यापकता का दर्शन होगा भारतीय सस्कृति मनुष्य को सत्कर्म करने की प्रेरणा देती है जिसके आर्दशो को जीवन में धारण करने से सच्चा सुख और आनन्द प्राप्त होता है कुवेर दत्त, प्रवीण रोहिला, कर्णसिह विनोद यादव, रमेश, मुकेश, विशाल, सीमा, अन्जू, किरण, पुष्पा आदिमोजूद रहे।

  Similar Posts

Share it
Top