Bharat Ka Ujala Latest Hindi Article |नई सरकार के लिए सविप्रा का भ्रष्टाचार होगा बड़ी चुनौती

नई सरकार के लिए सविप्रा का भ्रष्टाचार होगा बड़ी चुनौतीBharat Ka Ujala Latest Hindi Article

सहारनपुर भय, भुख एंव भ्रष्टाचार का नारा देकर केन्द्र की सत्ता के बाद अब उत्तर प्रदेश की सत्ता में आई भारतीय जनता पार्टी की सरकार एक दो दिन में बनने वाली है। सपा सरकार में तेजी से सरकारी क्षेत्र में बढे आम व्यक्ति के शोषण तथा भ्रष्टाचार को रोकना भाजपा की राज्य सरकार के लिये सबसे बडी चुनौती होगी। मौजूदा समय में सहारनपुर विकास प्राधिकरण के लाल फिताशाहों ने जिस तरह से अवैध निर्माणों को बढावा देकर महानगर में तेजी से तहखानों के निर्माण कराये हैं, उनसे कभी भी बडी दुर्घटना हो सकती है।सहारनपुर विकास प्राधिकरण के आला अफसर हालांकि महानगर में तेजी से हो रहे अवैध निर्माणों कों लेकर ध्वस्तीकरण के अभियान चलाते हैं परन्तु इसके बाद भी न तो महानगर में अवैध निर्माणों पर ही अकुंश लगा और नही शहर के बाहरी हिस्सों में अनाधिकृत रूप से विकसित हो रही गैर कानूनी कालोनियों पर ही प्रतिबन्ध लग सका है। यही वजह है कि सविप्रा के उपाध्यक्ष से लेकर उनके कई चहते जे.ई एंव ऐ.ई समेत अन्य लिपिक लूट खसौट करने से नहीं चुकते हैं। सूत्र बताते हैं कि सविप्रा के कई लिपिक तथा मैट निर्माणाधीन भवनों के स्वामियों को नौटिस जारी कर आम व्यक्तियों का शोषण करने से पीछे नही रहते हैं। इसके विपरित सविप्रा के उपाध्यक्ष एंव जे.ई व मैट इस समय कई बडे ऐसे अवैध निर्माणों से पुरी तरह आंखें बन्द की हुयी हैं, गैर कानूनी ढंग से मानचित्रों के विपरित अथवा बगैर मानचित्रों के बनाए जा रहें हैं। महानगर के एस.ए.एम. इन्टर कालेज के सामने गुरूद्वारा वाली गली के नुक्कड पर पीछले दिनों एक बडा व्यवसायिक निर्माण पुरा कर लिया गया हैं। इसी प्रकार से इसी निर्माण कर्ता द्वारा वी.सी के सरंक्षण में आवासीय भवन के स्थान पर भी सभी सुरक्षा कारणों को दर किनार करके रेलवे स्टेशन से गुरूद्वारा की ओर जाने वाले मार्ग पर एक होटल बना लिया गया है। इस होटल के निर्माण में अग्नि शमन विभाग की कार्यशैली भी संदेहास्पद रही है। इसके अलावा आवासीय नक्शे पर तिकोनी कोठी के पास एक बडा नर्सिंग होम भी डा. विनीता मल्होत्रा द्वारा तैयार कर शुरू कर दिया गया हैं। सविप्रा के कारकुनों के सरंक्षण में ही देहरादून रोड पर सिटी गोल्ड शो रूम में अवैध रूप से बेसमैन्ट बना लिया गया है। इसके साथ-साथ होटल प्रेजिडेन्ट के स्वामी द्वारा होटल में मनमाने ढंग से पीछले हिस्से में अनाधिकृत निर्माण पुरा कर लिया गया है। यह सभी निर्माण ऐसे हैं, जो सविप्रा के वरिष्ठ अधिकारियों की भ्रष्ट कार्यशैली को तो उजागर करते ही हैं। साथ ही यह सब नई सरकार सरकार के लिए भी इस लिए बडी चुनौती होगा की प्रचन्ड बहुमत के साथ सत्ता में आये भाजपा नेता किस प्रकार से सविप्रा के भ्रष्टाचार को काबू करतें हैं।

  Similar Posts

Share it
Top