नई दिल्ली: अमेजन ने भारतीय भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए खेद जताया

2017-01-13 21:00:37.0

नई दिल्ली: अमेजन ने भारतीय भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए खेद जताया

नई दिल्ली : तिरंगे की शक्ल वाले पायदान की बिक्री को लेकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के कड़े संदेश के बाद अमेजन ने भारतीय भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए खेद जताया है और उत्पाद कनाडाई वेबसाइट से हटाने के बारे में उन्हें सूचित किया। अमेजन इंडिया लिमिटेड के उपाध्यक्ष एवं कंट्री मैनेजर अमित अग्रवाल ने सुषमा को भेजे पत्र में कहा, मैं यह पत्र भारतीय ध्वज वाले उत्पादों के सिलसिले में लिख रहा हूं जैसा कि आपके ट्वीट में उल्लेखित था। उन्होंने लिखा, अमेजन इंडिया भारतीय कानूनों एवं प्रथाओं का सम्मान करने को प्रतिबद्ध है। कनाडा में थर्डपार्टी विक्रेता द्वारा पेशकश किये जा रहे इन सामानों ने भारतीय संवेदनाओं को ठेस पहुंची, अमेजन इसके लिए खेद जताता है। हमारा कभी भी भारतीय भावनाओं को ठेस पहुंचाने का इरादा या मतलब नहीं था। उन्होंने यह भी कहा कि अमेजन भारत के प्रति दृढ़ता से प्रतिबद्ध बना हुआ है जो कि कंपनी के सीईओ जेफ बेजोस की गत वर्ष की गई उस घोषणा से भी साफ है जिसमें उन्होंने भारत में पांच अरब डालर निवेश की योजना की बात कही थी। अग्रवाल ने कहा, हम भारत सरकार, देश के उद्यमियों और प्रवर्तकों तथा सबसे महत्वपूर्ण हमारे भारतीय उपभोक्ताओं एवं कर्मचारियों के साथ अपने संबंध को अत्यंत महत्व देते हैं। सुषमा ने बुधवार को अमेजन कनाडा द्वारा भारतीय ध्वज की शक्ल वाले पायदानों की बिक्री करने के बारे में एक शिकायत मिलने के बाद तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी और ई-खुदरा विक्रेता कंपनी से उत्पादन वापस लेने और बिना शर्त माफी मांगने के लिए कहा था। सुषमा ने कहा था कि ऐसा नहीं करने पर अमेजन के किसी भी अधिकारी को भारतीय वीजा प्रदान नहीं किया जाएगा और पूर्व में जारी वीजा को भी रद्द कर दिया जाएगा। मंत्री ने साथ ही भारतीय दूतावास से भी कहा था कि वह मामले को अमेजन कनाडा के साथ उठाये। कड़े विरोध के बाद अमेजन ने गुरुवार को आपत्तिजनक वस्तु को अपने कनाडाई वेबसाइट से हटा दिया। सुषमा ने श्रृंखलाबद्ध ट्वीट में अमेजन द्वारा ऐसे आपत्तिजनक पायदान की बिक्री करने पर अपना आक्रोश व्यक्त किया था। सुषमा ने कहा था, अमेजन को बिना शर्त माफी मांगनी चाहिए। उन्हें वे सभी उत्पाद तत्काल वापस लेने चाहिए जो हमारे राष्ट्रीय ध्वज का अपमान करते हैं। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा था, यदि ऐसा तुरंत नहीं किया गया तो हम अमेजन के किसी भी अधिकारी को भारतीय वीजा प्रदान नहीं करेंगें। हम पूर्व में जारी वीजा भी रद्द कर देंगे। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने अग्रवाल द्वारा सुषमा को भेजे गए जवाब को ट्वीट करते हुए कहा, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के ट्वीट के जवाब में अमेजन ने उन्हें पत्र लिखकर भारतीय भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए खेद जताया, आपत्तिजनक वस्तुएं वापस ली। अग्रवाल ने कहा, ये उत्पाद भारत में उपलब्ध नहीं थे। इन उत्पादों के सूचीबद्ध होने की जानकारी होने के बाद हमने तत्काल उन्हें कनाडाई वेबसाइट से हटाया और बचाव के उपाये किये ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि ये उत्पाद हमारे अन्य बाजारस्थलों या वेबसाइट पर नहीं बेचे जा सकें। अग्रवाल ने अमेजन के भारत के साथ व्यापक संबंध के मुद्दे पर चर्चा करने के लिए सुषमा से मुलाकात करने की भी पेशकश की।

  Similar Posts

Share it
Top