नई दिल्ली: आतंकवाद विरोधी समिति में शामिल होगा भारत, संयुक्त राष्ट्र ने मांगा नाम

2017-02-05 07:30:51.0

नई दिल्ली: आतंकवाद विरोधी समिति में शामिल होगा भारत, संयुक्त राष्ट्र ने मांगा नामनई दिल्ली: आतंकवाद विरोधी समिति में शामिल होगा भारत, संयुक्त राष्ट्र ने मांगा नाम

नई दिल्ली : संयुक्त राष्ट्र ने आतंकवादी संगठनों और उनके नेताओं पर प्रतिबंध का फैसला करने वाली अपनी एक समिति के सहयोग के लिये एक वैश्विक टीम गठित की है। इस टीम के लिए संयुक्त राष्ट्र ने भारत से अपने उम्मीदवार का नाम भेजने को कहा है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि वैश्विक संस्था के अनुरोध के बाद गृह एवं वित्त मंत्रालय दोनों से इसके लिये उपयुक्त व्यक्तियों के नामों पर सुझाव देने को कहा गया ताकि वे इस महत्वपूर्ण टीम का हिस्सा बन सकें। उन्होंने बताया कि पैनल में देश के उम्मीदवार की मौजूदगी से पाकिस्तान स्थित आतंकवादी समूह जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) के प्रमुख और पिछले साल पठानकोट वायुसेना अड्डे पर हमले के मास्टरमाइंड मौलाना मसूद अजहर पर प्रतिबंध लगाने के सरकार के प्रयासों में सहायता मिल सकती है। बहरहाल, अलकायदा और आईएसआईएस से जुड़े संगठनों और व्यक्तियों वाली संयुक्त राष्ट्र की प्रतिबंध सूची में जेईएम प्रमुख का नाम सूचीबद्ध कराने के भारत के प्रयास को चीन ने बार बार बाधित किया है। सूत्रों ने बताया कि प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार भारत ने पिछले साल संयुक्त राष्ट्र की एनालिटिकल सपोर्ट एंड सैंक्शंस मॉनिटरिंग टीम के लिये अपने उम्मीदवारों के नाम भेजे थे, जिनका चयन नहीं हुआ था। इसके लिये इच्छुक व्यक्ति को आईएसआईएल (दाएश), अलकायदा और इससे जुड़े व्यक्तियों एवं संस्थाओं, उनके उदभव एवं विकास, संपर्क तथा इनके खतरों की बदलती प्रकृति पर विशेषज्ञ होना चाहिए और उनमें कठिन परिस्थितियों सहित व्यापक यात्रा की इच्छा होनी चाहिए। प्रतिबंध समिति में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) के 15 सदस्य हैं। भारत वर्तमान में यूएनएससी का सदस्य नहीं है इसलिए वह प्रतिबंध समिति में शामिल नहीं है।

  Similar Posts

Share it
Top