नई दिल्ली: अमेरिकन एजेंसी ने कश्मीरी गेट को बताया नकली उत्पादों का गढ़

2016-12-27 12:54:06.0

नई दिल्ली: अमेरिकन एजेंसी ने कश्मीरी गेट को बताया नकली उत्पादों का गढ़

नई दिल्ली : अमेरिका की एक एजेंसी ने आटोमोटिव पार्ट्स की बिक्री के मामले में एशिया के बड़े बाजारों में एक कश्मीरी गेट को नकली उत्पादों का गढ़ बताया है। इस रिपोर्ट ने कश्मीरी गेट के व्यापारियों को चिंता में डाल दिया है। उनके मुताबिक इस तरह की रिपोर्ट से कश्मीर गेट बाजार के साथ वैश्विक स्तर पर देश की छवि प्रभावित होती है, जबकि यहां अब नकली उत्पादों की बिक्री पर काफी हद तक रोक लग चुकी है। यह रिपोर्ट अमेरिका के कारोबार प्रतिनिधि कार्यालय के द्वारा जारी की गई है। स्पेशल 301 आउट आफ साइकल रिव्यू आफ नोटोरियस मार्केट्स फार 2016 के मुताबिक यहां नकली ऑटो पार्ट्स की बिक्री होती है। रिपोर्ट में परिधानों की बिक्री के बड़े केंद्र गांधी मार्केट को भी नकली माल की बिक्री के केंद्र के तौर पर चिंहित किया गया है। आटोमोटिव पार्ट्स मर्चेट एसोसिएशन (अपमा) के महामंत्री विष्णु भार्गव के मुताबिक ऑटो सेक्टर में भारत तेजी से अपनी वैश्विक पहचान बना रहा है। कश्मीरी गेट से नेपाल, भूटान व बांग्लादेश जैसे देशों को ऑटो पार्ट्स की आपूर्ति होती है। ऐसे में इस बाजार के साथ भारत की भी छवि धूमिल करने की भी कोशिश है। इस रिपोर्ट को लेकर संबंधित अमेरिकी एजेंसी से संपर्क किया जाएगा। अपमा के कोषाध्यक्ष विनय नारंग के मुताबिक 10 साल पहले ऐसा होता था, लेकिन अब ऐसा नहीं है। कुल मिलाकर यह छवि खराब करने की कोशिश है, जिसमें हजारों दुकानदारों और मजदूरों की साख दांव पर लगी है। कश्मीरी गेट में 20 हजार से ज्यादा आटो पार्ट्स की दुकानें हैं। आम आदमी पार्टी ट्रेड विंग दिल्ली के संयोजक व कश्मीरी गेट में ऑटो पार्ट्स विक्रेता बृजेश गोयल के मुताबिक यह रिपोर्ट पूरी तरह से गलत है और मार्केट को बदनाम करने की कोशिश है। उन्होंने कहा कि इस मामले पर केंद्र सरकार को हस्तक्षेप करना चाहिए।

  Similar Posts

Share it
Top