अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा कि राष्ट्रपति चुनावों में अगर वह देश के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ चुनाव लड़ते तो उन्हें हरा देते

2016-12-27 21:30:44.0

अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा कि राष्ट्रपति चुनावों में अगर वह देश के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ चुनाव लड़ते तो उन्हें हरा देते

होनोलूलू : अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा कि राष्ट्रपति चुनावों में अगर वह देश के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ चुनाव लड़ते तो उन्हें हरा देते। कल प्रसारित हुये एक साक्षात्कार ओबामा ने कहा कि अगर उन्हें तीसरी बार राष्ट्रपति चुनाव लडने का मौका मिलता तो ट्रंप की तुलना में ज्यादातर अमेरिकी लोगों की पसंद वह बनते। ओबामा ने 2008 चुनाव अभियान के अपने संदेश होप एंड चेंज (उम्मीद और परिवर्तन) का जिक्र करते हुये कहा मुझे पूरा भरोसा है कि अगर मुझे तीसरी बार चुनाव लडने का मौका मिलता तो ज्यादातर अमेरिकी लोगों ने मुझ पर विश्वास जताया होता। हलांकि ट्रंप ने ओबामा को ट्विटर के जरिये जवाब देते हुये कहा बिल्कुल नहीं। ट्रंप ने कहा कि रोजगार के मुद्दा हो या आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट के खिलाफ लड़ाई और ओबामा के महत्वाकांक्षी स्वास्थ्य कानून, हर जगह उन्हें विफलता मिली। अमेरिका के संविधान के मुताबिक दो बार राष्ट्रपति बनने वाला उम्मीदवार तीसरी बार राष्ट्रपति पद का चुनाव नहीं लड़ सकता। इससे पहले डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन के प्रवक्ता ब्रायन फालॉन ने भी ट्वीट किया ओबामा चुनावों में ट्रंप को हरा देते। अगर चुनावों से ठीक पहले क्लिंटन के खिलाफ ई-मेल मामले में एफबीआई का बयान नहीं आता तो वह भी ट्रंप को हरा देती। ट्रंप को निर्वाचक मंडल के 538 में से 304 मत मिले जबकि राष्ट्रपति बनने के लिये 270 मतों की जरुरत होती है। हलांकि लोकप्रिय मतों के मामले में हिलेरी क्लिटन को 48.2 फीसदी जबकि डोनाल्ड ट्रंप को 46.1 फीसदी मत मिला था।

  Similar Posts

Share it
Top