ऐलान पांच राज्यों में चुनावों का, मतगणना 11 मार्च को होगी

2017-01-04 21:00:56.0

ऐलान पांच राज्यों में चुनावों का, मतगणना 11 मार्च को होगी

नई दिल्ली : चुनाव आयोग ने आज देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान कर दिया। इसी के साथ ही इन राज्यों में आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू हो गयी है। गोवा, पंजाब और उत्तराखंड में एक चरण में और मणिपुर में दो चरण तथा उत्तर प्रदेश में सात चरणों में चुनाव संपन्न कराये जाएंगे। पांचों राज्यों में मतगणना 11 मार्च शनिवार को होगी। मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने आज एक संवाददाता सम्मेलन में चुनावों की तारीखों का ऐलान करते हुए बताया कि गोवा में 11 जनवरी को चुनाव की अधिसूचना जारी होगी। नामांकन की अंतिम तिथि 18 जनवरी है। गोवा में चार फरवरी शनिवार को मतदान होगा। पंजाब में चुनाव की अधिसूचना 11 जनवरी को जारी होगी। नामांकन की अंतिम तिथि 18 जनवरी है। मतदान की तिथि चार फरवरी शनिवार को होगा। उत्तराखंड में 20 जनवरी को चुनाव की अधिसूचना जारी होगी। नामांकन की अंतिम तिथि 27 जनवरी है। उत्तराखंड में मतदान 15 फरवरी बुधवार को होगा। मणिपुर में 60 सदस्यीय विधानसभा के लिए चुनाव दो चरणों में कराए जाएंगे। पहले चरण में 38 सीटों पर चुनाव की अधिसूचना 8 फरवरी को जारी होगी। पहले चरण के लिए नामांकन की अंतिम तिथि 15 फरवरी बुधवार है। पहले चरण का मतदान 4 मार्च शनिवार को होगा। दूसरे चरण में 22 सीटों पर चुनाव की अधिसूचना 11 फरवरी को होगी। नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि 18 फरवरी है। मतदान की तारीख 8 मार्च रहेगी। उत्तर प्रदेश की 403 सदस्यीय विधानसभा के लिए कुल सात चरणों में संपन्न कराए जाएंगे। पहले चरण की अधिसूचना 73 विधानसभा सीटों के लिए 17 जनवरी को जारी होगी। मतदान की तारीख 11 फरवरी रहेगी। दूसरे चरण में 67 सीटों के लिए अधिसूचना 20 जनवरी को जारी होगी। नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि 27 जनवरी रहेगी। मतदान 15 फरवरी को कराया जाएगा। तीसरे चरण की अधिसूचना 69 विधानसभा सीटों के लिए 24 जनवरी को जारी होगी। नामांकन की अंतिम तिथि 31 जनवरी रहेगी। मतदान 19 फरवरी को कराया जाएगा। चौथे चरण में 53 विधानसभा सीटों पर चुनाव 23 फरवरी को कराये जाएंगे। पांचवें चरण में 52 सीटों के लिए चुनाव की अधिसूचना 2 फरवरी को जारी होगी। नामांकन की अंतिम तिथि 9 फरवरी है। मतदान 27 फरवरी को कराया जाएगा। छठे चरण में 49 सीटों पर चुनाव की अधिसूचना 8 फरवरी को जारी होगी। नामांकन की अंतिम तिथि 15 फरवरी है। मतदान 4 मार्च को कराया जाएगा। सातवें और अंतिम चरण में 40 सीटों पर चुनाव की अधिसूचना 11 फरवरी को जारी होगी। नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि 18 फरवरी है। मतदान 8 मार्च को कराया जाएगा। जैदी ने कहा कि पांच राज्यों में कुल 690 विधानसभा सीटों पर चुनाव कराए जाएंगे। उन्होंने कहा कि पांच राज्यों की 133 सीटें सुरक्षित हैं। करीब 16 करोड़ मतदाता इन चुनावों में मतदान करेंगे। इन चुनावों में एक लाख 85 हजार मतदान केंद्र बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि सभी मतदाताओं को फोटो वाले वोटर स्लिप दिये जाएंगे। जैदी ने दावा किया कि सभी मतदाताओं को मतदाता पहचान पत्र उपलब्ध करा दिया गया है। उन्होंने बताया कि चुनाव आयोग की तरफ से इन पांच राज्यों में मतदान बढ़ाने के लिए मतदाता जागरूकता कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं। मतदाता ईवीएम पर नोटा का भी इस्तेमाल कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि गोवा में यह व्यवस्था की जा रही है कि मत डालने के बाद मतदाता जान सकेगा कि उसके द्वारा किया गया मतदान किस उम्मीदवार को हासिल हुआ। उन्होंने बताया कि ईवीएम पर उम्मीदवारों के नाम के साथ उनका फोटो भी होगा। उन्होंने कहा कि अदालती आदेश के मुताबिक इस बार उम्मीदवारों को एक नो डिमांड एफिडेविट भी देना होगा जिसमें उल्लेख हो कि उनके ऊपर टेलीफोन, पानी का बिल या सरकारी आवास में रहने के दौरान का कोई शुल्क शामिल नहीं है। उम्मीदवारों के लिए चुनाव खर्च की सीमा उत्तर प्रदेश, पंजाब और उत्तराखंड में 28 लाख रुपए और गोवा तथा मणिपुर में 20 लाख रुपए रहेगी। चुनाव में कालाधन का उपयोग रोकने के लिए आयोग की ओर से पुख्ता प्रबंध किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि उम्मीदवारों को 20 हजार से ज्यादा का खर्च चेक से करना होगा और 20 हजार से ज्यादा का चंदा या लोन चेक या ड्राफ्ट से लेना होगा। उन्होंने कहा कि चुनाव में पेड न्यूज पर भी आयोग की सख्त नजर बनी रहेगी। किसी राजनीतिक दल या उम्मीदवार की ओर से चलने वाले टीवी चैनलों की सामग्री पर भी चुनाव आयोग नजर बनाए रहेगा। उन्होंने कहा कि स्वतंत्र व निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए हर तरह के प्रबंध किये जा रहे हैं और पोलिंग बूथों पर अर्धसैनिक बलों के साथ ही स्थानीय पुलिस की भी तैनाती होगी। इस समय उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार है जबकि पंजाब में शिरोमणि अकाली दल और भाजपा संयुक्त रूप से सरकार चला रहे हैं। मणिपुर, उत्तराखंड में कांग्रेस नेतृत्व वाली और गोवा में भाजपा नेतृत्व वाली सरकार चल रही है। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण हैं। वर्तमान में यहां से भाजपा के 73 सांसद हैं जबकि विधानसभा में उसके 46 विधायक हैं।

  Similar Posts

Share it
Top