नोएडा: 'ली मस्क' प्रदर्शित करने के लिए वाईएम मूवीज के साथ भागीदारी की

नोएडा: ली मस्क प्रदर्शित करने के लिए वाईएम मूवीज के साथ भागीदारी की

नोएडा : ऑस्कर पुरस्कार विजेता दिग्गज संगीतकार ए.आर. रहमान जो बतौर संगीतकार, संगीत के क्षेत्र में अपनी महारत सिद्ध कर चुके हैं, वह अब दुनिया की पहली वर्चुअल रियलिटी फिल्म 'ल मस्क' के जरिए निर्देशन के क्षेत्र में भी अपना हुनर साबित करने जा रहे हैं। इस फिल्म को प्रदर्शित करने के लिए पीवीआर सिनेमाज ने एआर रहमान की वाईएम मूवी के साथ भागीदारी की है। जिसकी घोषणा के लिए एआर रहमान नोएडा के माॅल आॅफ इंडिया स्थित एशिया के एकमात्र वीआर लाॅन्ज पीवीआर ईसीएक्स में पहुचे। इस मौके एआर. रहमान ने निर्देशन के मैदान में उतरने के बारे में उन्होंने कहा, वर्चुअल रियलिटी फिल्म को लेकर अभी कोई भी कुछ नहीं कर रहा है। मुझे लगा कि ऐसी फिल्म के निर्देशन के लिए यह सही मौका है। पूरी टीम ने इसमें मेरा सहयोग किया और मुझे प्रोत्साहित किया। विश्व की इस पहली वर्चुअल रियलिटी फिल्म की शूटिंग रोम में हुई है और इसकी पटकथा भी खुद रहमान और उनकी पत्नी सायरा रहमान ने लिखी है। रहमान ने बताया कि वर्चुअल रियलिटी फिल्म आपको फिल्म की वास्तविक दुनिया का अहसास कराती है और आपको काफी हद तक यही महसूस होता है कि आप उसी दुनिया में मौजूद हैं। फिल्म के संगीत के बारे में रहमान ने कहा, फिल्म में क्लासिकल म्यूजिक का टच है। फिल्म की पटकथा लिखते समय मुझे महसूस हुआ कि यह तभी प्रभावशाली लगेगी, जब साथ में आपको ऑकेस्ट्रा सुनाई दे। इसलिए शूटिंग से पहले ही मैंने इसका प्रभाव जानने का प्रयास किया। फिल्म एक अनाथ लड़की जुलियट की कहानी है। यह किरदार फांसीसी अभिनेत्री नोरा अर्नेज्दर ने निभाया है। जुलियट पार्ट टाइम संगीतकार भी है और उसके इर्दगिर्द मस्क (कस्तूरी) की खूशबू बिखरी होती है। वह संगीत के जरिए अपनी जिंदगी को एक अलग मुकाम पर ले जाना चाहती है। वहीं पीवीआर सिनेमाज के साथ भागीदारी पर बोलते हुए एआर रहमान ने कहा, हम ली मस्क के भारतीय शुभारंभ के लिए पीवीआर सिनेमाज के साथ भागीदारी करते हुए गौरवान्वित हैं। इस अनूठी मूवी इमर्शन को भारत में पेश करने के लिए इससे बेहतर सहयोगी कोई नहीं हो सकता था। इस मूवी से मल्टीसेंसरी और स्टीरियोस्मोकिक अनुभव मिलेगा और मुझे उम्मीद है कि दर्शक यह अनुभव पाकर मंत्रमुग्ध हो जाएंगे। यह मूवी संवेदनशील और खूबसूरत दृश्यों से लबरेज है जो निश्चित तौर पर दर्शकों का मन मोह लेंगे। हम सकारात्मक नजरिया रखते हैं कि पहली वीआर फिल्म दर्शकों के दिमाग पर छा जाने में सक्षम होगी और उनकी भरपूर तारीफ बटोरेगी। इस मौके पर मीडिया को संबोधित करते हुए पीवीआर लिमिटेड के सीईओ गौतम दत्ता ने कहा, हमारे लिए यह अत्यंत गौरव की बात है कि रहमान की पहली निर्देशित फिल्म के लिए हमने वाईएम मूवीज के साथ भागीदारी की है। चूंकि यह फिल्म विश्व में पहला वीआर अनुभव देगी इसलिए हम विशुद्ध मनोरंजन की असीम संभावनाएं पेश करने के लिए बहुत सारी सुविधाओं का लाभ उठा रहे हैं। भारत में ऐसी वीआर सिनेमाई फिल्मों की रिलीज करने के साथ ही पीवीआर डिजिटल दुनिया की हाई-एंड टेक्नोलाॅजी में एक संपूर्ण तल्लीनता का वादा पूरा करती है और फिल्मों के शौकीन की जिज्ञासा को शांत करती है। हमारी अद्वितीय वीआर टेक्नोलाॅजी की बदौलत दर्शक ली मस्क का अनुभव प्राप्त कर सकेंगे और उम्मीद है कि इससे जुड़े सभी अंशधारकों के प्रयासों को सराहेंगे। 'ली मस्क' का भारतीय शुभारंभ 24 अप्रैल को इंटेल-कीनोट के तहत 'एनएबी', लास वेगास में हुए प्रदर्शन के बाद ही हुआ है। इत्र, मोशन, स्पाशियल साउंड और विजुअल दृश्यों का मिला-जुला अनुभव दर्शकों को पोस्टिराॅन द्वारा विशेष रूप से डिजाइन की गई वोयाजर चेयर पर स्टीरियोस्मोकिक इफेक्ट देगा। जैसा कि टाइटिल से स्पष्ट है कि यह फिल्म खुशबू पर आधारित है और इस खुशबू की दीवानगी ने ही उसे निगल लिया। प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर रोम में शूट की गई यह फिल्म अनाथ उत्तराधिकारी और शौकिया संगीतज्ञ जूलियट के सफरनामे से शुरू होती है जो एक मिशन के तहत देवी के रूप में चर्चित होती है। उसकी जिंदगी में नाटकीय बदलाव तब आता है जब वह एक अज्ञात संदेश प्राप्त करती है और इससे वह अपने रहस्यमय अतीत में चली जाती है। एआर रहमान द्वारा लिखित, निर्देशित और संगीतबद्ध की गई इस फिल्म में नोरा अर्नेजेदेर, गाय बर्नेट, मुनीरिह जहांपुर तथा मरियम जोहराब्यान ने मुख्य भूमिका निभाई है।

  Similar Posts

Share it
Top