कश्मीर में ग्रामीण क्षेत्रों में दुकानें खुलनी शुरू कुछ इलाकों में बसे और निजी वाहन भी सड़कों पर देखने को मिले

कश्मीर में ग्रामीण क्षेत्रों में दुकानें खुलनी शुरू कुछ इलाकों में बसे और निजी वाहन भी सड़कों पर देखने को मिले

श्रीनगर : कश्मीर अलगाववादियों द्वारा आहूत बंद के कारण कश्मीर में सामान्य जनजीवन प्रभावित रहा हालांकि ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में स्थिति सामान्य होती जा रही है जहां कुछ इलाकों में वाहनों की आवाजाही देखने को भी मिली अधिकारियों ने कहा की घाटी के अन्य जिलों के कुछ ग्रामीण क्षेत्रों में सिविल लाइन और बाहरी सीमा के कुछ इलाकों में आज दुकानें भी खुलीं है वहीं श्रीनगर के कुछ इलाकों में बसे और निजी वाहन भी सड़कों पर देखने को मिले अलगाववादी गुटों हुर्रियत कान्फ्रेंस और जेकेएलएफ द्वारा आहूत बंद के कारण स्कूल और अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान आज भी बंद रहे है दक्षिण कश्मीर में आठ जुलाई को सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद से कश्मीर में पिछले चार महीने से अशांति जारी है अधिकारियों ने बताया कि कश्मीर में कहीं भी लोगों की आवाजाही पर कोई प्रतिबंध नहीं लगा है, लेकिन कानून एवं व्यवस्था कायम करने और रोजमर्रा के काम करते वक्त लोगों को सुरक्षित महसूस करवाने के लिए संवेदनशील स्थानों पर काफी संख्या में सुरक्षा बलों को तैनात किया गया था घाटी में जारी बंद का नेतृत्व कर रहे अलगाववादी सप्ताह भर का आंदोलन कार्यक्रम जारी करते हैं अलगाववादियों ने कल देर रात बंद की अवधि को 17 नवंबर तक बढ़ाते हुए बीच बीच में 15 घंटे की ढील दी है।घाटी में जारी अशांति में अभी तक दो पुलिसकर्मियों समेत 85 लोगों की मौत हो चुकी है और हजारों लोग घायल हुए हैं झड़पों में लगभग 5000 सुरक्षाकर्मी भी घायल हुए हैं।

  Similar Posts

Share it
Top