रेलवे को नई तकनीक की पटरी पर तेज गति से प्रगति की दिशा में दौड़ाने की जरूरत है : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

रेलवे को नई तकनीक की पटरी पर तेज गति से प्रगति की दिशा में दौड़ाने की जरूरत है : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

नई दिल्ली : रेलवे को नई तकनीक की पटरी पर तेज गति से प्रगति की दिशा में दौड़ाने की जरूरत है : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दिल्ली के पास सूरजकुंड में रेल विकास शिविर को वीडियो कान्फेंभसग के माध्यम से संबोधित करते हुए कहा कि 21वीं सदी प्रौद्योगिकी आधारित सदी है और नवान्वेषण बहुत है तथा इसलिये रेलवे को गति एवं प्रगति के रास्ते पर जाने की जरूरत है उन्होंने कहा कि यह अच्छी बात है कि प्रत्येक अधिकारी अपना काम कर रहा है लेकिन हमें मिल कर काम करना होगा और सोचना होगा कि हम रेलवे को कैसा बनाना चाहते हैं उन्होंने कहा कि रेलवे को विकसित होना होगा और वित्तीय रूप से सशक्त बनना होगा प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार के रेल बजट का फोकस कभी राजनीति नहीं रहा और सरकार ने रेलवे के परावर्तन के लिये काम किया यह सदी बदल चुकी है और इसलिये रेलवे के सिस्टम भी बदलने चाहिये उन्हें विश्वास है कि उनकी टीम यह हासिल कर सकेगी मोदी ने कहा कि उनका बचपन रेलवे प्लेटफॉर्म पर बीता है और रेलवे से उनका रिश्ता बहुत मजबूत है इसलिये वह चाहते हैं कि रेलवे का परावर्तन हो रेल विकास शिविर का उद्देश्य रेल क्षेत्र के सतत विकास के लिए रेलवे परिचालन के सबसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में नवाचारी लेकिन व्यवहारिक विचारों का सृजन करना है भारतीय रेलवे के 163 वर्षों के इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है कि ऐसा कोई बुद्धिशील और नियोजक आयोजन सभी रेलवे कर्मचारियों को शामिल करके इतने बड़े पैमाने पर आयोजित किया जा रहा हो तीन दिन के इस शिविर का रविवार को समापन होगा केंद्रीय मंत्रिमंडल के अनेक मंत्रियों को शिविर के समापन दिवस पर आमंत्रित किया गया है उस समारोह में आमंत्रित व्यक्तियों में सरकार के कुछ चुभनदा सचिवों, प्रधानमंत्री कार्यालय, कैबिनेट सचिवालय और नीति आयोग के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हैं।

  Similar Posts

Share it
Top