बेंगलुरु: कांग्रेस को ईमानदार कार्यकर्ता नहीं बल्कि मैनेेजर्स की जरूरत : एमएस कृष्णा

2017-01-29 22:15:12.0

बेंगलुरु: कांग्रेस को ईमानदार कार्यकर्ता नहीं बल्कि मैनेेजर्स की जरूरत : एमएस कृष्णा

बेंगलुरु : कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एसएम कृष्णा अब अपनी ही पार्टी पर हमलावर हो गए हैं। उन्होंने आरोप लगाया है कि कांग्रेस को ऐसा नेता नहीं चाहिए जो जनता का नेता हो बल्कि उसेे मैनेजर चाहिए, जो कि हालात को काबू कर सके। कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से त्यागपत्र देेने के बाद उन्होंने पार्टी पर वरिष्ठ नेताओं की अनदेखी करने का भी आरोप लगाया। एमएम कृष्णा ने कहा कि इस उम्र में उन्हें पार्टी द्वारा अनदेखा किए जाने का उन्हें बेहद दुख है। हालांकि उन्होंने कहा कि उनकी बढ़ती उम्र उनके त्यागपत्र देने की वजह नहीं है। कृष्णा के करीबी सूत्रों के मुताबिक उन्होंने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर अपने त्यागपत्र लेने की जानकारी दी है। 84 वर्षीय एसएम कृष्णा 1999 से 2004 तक कर्नाटक के मुख्यमंत्री और 2004 से 2008 तक महाराष्ट्र के राज्यपाल रहे थे। इसके बाद 2009 से 2012 तक वे मनमोहन सरकार में विदेश मंत्री भी रहे। कृष्णा के करीबियों का कहना है कि पिछले कुछ समय से पार्टी में अपनी उपेक्षा से वे नाराज चल रहे थे। कृष्णा के पार्टी छोड़ने की खबर सुनते ही कांग्रेस कार्यकर्ता उनके आवास पर जमा होने लगे। हालांकि, वे अपने घर पर नहीं थे। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जी परमेश्वर ने कृष्णा के त्यागपत्र से अनभिज्ञता जाहिर करते हुए कहा कि मुझे इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। उन्होंने कहा कि हमने किसी तरह से उनकी उपेक्षा नहीं की।

  Similar Posts

Share it
Top