कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का मोदी पर हमला कहा PM मोदी ने गरीबों के खिलाफ छेड़ा युद्ध

2016-12-13 19:45:00.0

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का मोदी पर हमला कहा PM मोदी ने गरीबों के खिलाफ छेड़ा युद्ध

दादरी : नोटबंदी के बाद ATM और बैंक की लाइन में लग चुके कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी मंगलवार को यूपी के दादरी की अनाज मंडी पहुंच गए। यहां प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ बड़ा हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि मोदी ने 8 नवंबर को गरीबों के खिलाफ युद्ध छेड़ने का ऐलान किया था।राहुल ने कहा कि अगर उन्हें संसद में बोलने दिया जाए तो वह नोटबंदी के बारे में लोगों को सब समझा देंगे। उन्होंने कांग्रेस नेता पी चिदंबरम के इस बयान का समर्थन किया कि नोटबंदी हिंदुस्तान के इतिहास में सबसे बड़ा स्कैम है। मंडी पहुंचे राहुल ने कहा, ये लोग मुझे बोलने नहीं दे रहे, अगल बोलने देंगे तो पूरा समझ दूंगा कि नोटबंदी का मकसद क्या था। पीएम घबराए हुए हैं, वह संसद में जवाब नहीं दे रहे हैं। पूरे देश में भाषण दे रहे हैं, लेकिन संसद में नहीं बोल रहे हैं। वह किसी को सुनना नहीं चाहते, जैसे राजा होता है ना, वह सिर्फ बोलना चाहता है। वह किसी की नहीं सुनते, न मंत्रियों की, न आरबीआई की, न जनता की, न किसानों की। चिंदबरम सही कह रहे हैं कि इससे बड़ा स्कैम हिंदुस्तान के इतिहास में नहीं हुआ। राहुल ने लोगों ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा, मोदी जी चाहते हैं कि हिंदुस्तान के गरीब के पैसा बैंक में ही फंसा रहे। आपके पैसे से बैंक चालू हो जाएगा और 8 लाख करोड़ रुपए उद्योगपतियों के माफ किए जाएंगे। उन्होंने लोगों से सवाल क्या कि क्या किसी को बैंक की लाइन में कोई अमीर आदमी नजर आया? कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, क्या एक भी कालेधन वाला लाइन में दिख रहा है, पीछे के दरवाजे से करोड़ों रुपये निकाले जा रहे हैं। नोटबंदी के पीछे सरकार की मंशा पर भी राहुल ने फिर सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा, पहले सरकरा ने कहा कि आतंकवादियों के खिलाफ कदम है, फिर दो दिन बाद आतंकवादी मारे गए तो उनकी लाश में से नए नोट निकले। फिर कहा कि नकली नोटों के खिलाफ काम किया है। हमने संसद में पूछा कि कितने नकली नोट हैं बाजार में? आप जानते हैं कितने नकली नोट हैं? 100 रुपये में से सिर्फ 2 पैसे नकली हैं। वहीं राहुल ने पीएम मोदी के कैशलेस इंडिया की पहल पर भी तंज कसा। उन्होंने कहा, कैशलेस तो बना ही दिया, कैश किसी के पास नहीं है। जब कैशलेस दुनिया आएगी तो किसान को पता भी नहीं चलेगा, 5 प्रतिशत पैसा उद्योगपतियों की जेब में चला जाएगा। इसके बाद राहुल ने वहां मौजूद महिलाओं के बीच जाकर उनसे बात की और पूछा कि नोटबंदी ने उन्हें किस तरह प्रभावित किया है।

  Similar Posts

Share it
Top