जम्मू: फारूक अब्दुल्ला ने भारत-पाक वार्ता की बहाली की पैरवी की

2016-12-28 23:30:23.0

जम्मू: फारूक अब्दुल्ला ने भारत-पाक वार्ता की बहाली की पैरवी की

जम्मू : जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने केंद्र सरकार से आग्रह किया है कि पाकिस्तान के साथ सभी विवादों का सौहार्दपूर्ण ढंग से समाधान करने के लिए बातचीत बहाल की जाए। उन्होंने जम्मू-कश्मीर की समस्याओं के आंतरिक और बाहरी पहलुओं के निदान के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बातचीत की प्रक्रिया आरंभ करने की अपील की और कहा कि मौजूदा हालात से को बाहर आने का एकमात्र विकल्प बातचीत है। अब्दुल्ला ने मंगलवार को कठुआ में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, शांति एवं सहयोग से पड़ोस के संबंधों का आधार तैयार होता है तथा ऐसे में भारत और पाकिस्तान को बातचीत बहाल करनी चाहिए। पूर्व मुख्यमंत्री ने अटल बिहारी वाजपेयी के एक मशहूर कथन का हवाला दिया और कहा, अगर पड़ोसी नहीं बदले जा सकते तो फिर क्या ऐसी चीज है जो दोनों देशों को एक दूसरे से बात करने और सौहार्दपूर्ण ढंग से अपनी समस्याओं का समाधान करने से रोकती है। नेशनल कांफ्रेस के नेता अब्दुल्ला ने यह भी कहा कि पश्चिमी पाकिस्तान के शरणार्थियों को मूल निवास प्रमाणपत्र देने का कदम अस्वीकार्य है और उनकी पार्टी इसका विरोध करेगी। पृथकतावादियों ने इस मामले पर यही रूख अपनाया है।

  Similar Posts

Share it
Top