रामेश्वरम: श्रीलंकाई नौसेना ने तमिलनाडु के 12 मछुआरों को किया गिरफ्तार

2016-12-21 22:15:37.0

रामेश्वरम: श्रीलंकाई नौसेना ने तमिलनाडु के 12 मछुआरों को किया गिरफ्तार

रामेश्वरम : श्रीलंका की नौसेना ने उसके जलक्षेत्र में कथित रूप से मछली पकड़ने के आरोप में 12 भारतीय मछुआरों को किया गिरफ्तार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेलवम ने श्रीलंका की ओर से राज्य के मछुआरों को लगातार गिरफ्तार करने की घटना पर केंद्र से इस संबंध में द्वीपीय देश को कड़ा संदेश देने की मांग की, जिसके एक दिन बाद यह गिरफ्तारी हुई है। श्रीलंका के जलक्षेत्र में कथित रूप से मछली पकड़ने के आरोप में पुडुकोट्टई जिले से सात लोगों को उनकी नौका सहित मंगलवार को गिरफ्तार किया गया और उन्हें कांगेसंतुरई बंदरगाह ले जाया गया। मत्स्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि यहां के पामबन से मछुआरों के तीन समूह को नौसैनिकों ने तलाईमन्नार के तट पर मछली पकड़ने के आरोप में बीती रात गिरफ्तार किया और यहां के पुलिस थाना में हिरासत में रखा। रामेश्वरम मत्स्य विभाग के सहायक निदेशक गोपीनाथ ने बताया कि दक्षिण सागर में प्रतिबंधित मछली पकड़ने के जाल के इस्तेमाल के आरोप में श्रीलंकाई अधिकारियों ने 20 मछुआरों को घेर लिया। ये मछुआरे मछली पकड़ने के लिए पामबन से दो मोटर नौकाओं और एक देसी नौका में निकले थे। गोपीनाथ ने बताया कि एक नौका पर सवार मछुआरे अपनी नौका में वहां से भागने में सफल रहे लेकिन 12 अन्य मछुआरों को पकड़कर श्रीलंका के श्री तलाईमन्नार ले जाया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे अपने पत्र में पन्नीरसेलवम ने लिखा कि कच्चतीवू द्वीप पर भारत की सम्प्रभुता को बहाल करने में मछुआरों के मुद्दों का स्थायी समाधान ढूंढना होगा। उन्होंने कहा, तमिलनाडु सरकार लगातार यह रूख रहा है कि हमारे मछुआरों को जिस दुर्भाग्यपूर्ण समस्या का सामना करना पड़ता है उसका स्थायी समाधान तलाशना होगा और यह केवल पारंपरिक जलक्षेत्र में मछली पकड़ने के अधिकार की सुरक्षा प्रदान कर कच्चातीवू पर भारत की सम्प्रभुता बहाल करने से होगा।

  Similar Posts

Share it
Top